राजस्थान: बिजली को तरसते ग्रामीणों का गुस्सा फूटा

Written by Mahendra Narayan Singh Yadav | Published on: November 8, 2018

राजस्थान में एक तरफ चुनावों की सरगर्मियां पूरे जोरों पर हैं, वहीं दूसरी तरफ, जनता बिजली के लिए तरस रही है। प्रतापगढ़ में तो नाराज ग्रामीण चुनावी माहौल से परे, धरना-प्रदर्शन पर उतर आए हैं।
 

Rajasthan
Image Courtesy: Patrika.com


लोगों के गुस्से को देखकर सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी के नेताओं और उम्मीदवारों की चिंताएं बढ़ गई हैं। उन्हें जनता के सवालों का जवाब देते नहीं बन रहा है।

बिजली की मनमानी कटौती से नाराज ग्रामीणों ने दलोट में कनिष्ठ अभियंता का घेराव कर दिया और मुश्किल से घेराव खत्म किया।

लोगों ने जीएसएस में ताला लगा दिया और मौके पर पहुंचे कनिष्ठ अभियंता रविशंकर पाटीदार को घेर लिया। घेराव खत्म कराने के लिए सालमगढ़ थाना प्रभारी को दल-बल के साथ पहुंचना पड़ा।

पत्रिका के अनुसार, इलाके के सेवना, चिकली, रायपुर समेत कई गांवों से आए ग्रामीणों ने दलोट जीएसएस पर प्रदर्शन किया, और बार-बार बिजली बंद और चालू करने को लेकर कर्मचारियों को काफी खरी-खोटी सुनाईं।

ग्रामीणों का कहना था कि बिजली न होने के कारण सिंचाई का काम नहीं हो पा रहा है और उनके खेतों में पानी नहीं पहुंच पा रहा है। ग्रामीणों ने निगम को भी कई बार सूचना दी लेकिन किसी ने उनकी बात पर ध्यान नहीं दिया।

अधिकारियों का कहना है कि फाल्ट और अधिक लोड होने के कारण बिजली की सप्लाई में बाधा आ रही है और निगम की टीमें लाइनें ठीक करने में लगी हुई हैं।