हज के नाम पर नक़वी ने फिर से बनाया मुसलमानों को बेवकूफ़, हवाई किराया में हुआ इज़ाफ़ा

Written by अफ़रोज़ आलम साहिल | Published on: March 5, 2018

नई दिल्ली: पिछले तीन-चार दिनों से मीडिया में लगातार इस बात का प्रचार ज़ोर-शोर से किया जा रहा है कि मोदी सरकार ने इस बार हज जाने वाले यात्रियों के लिए हवाई किराये में भारी कटौती कर दी है. लेकिन ये पूरी हक़ीक़त नहीं है. सच्चाई यह है कि इस ‘भारी कटौती’ के बाद भी इस बार हज पर जाने वाले हाजियों को पिछले साल की तुलना में अधिक किराया देना पड़ेगा.

बता दें कि श्रीनगर एयरपोर्ट से हज पर जाने के लिए पिछले साल हाजियों को हवाई किराया के नाम पर जहां 68,510 रूपये वसूल किया गया था, वहीं अब इस साल इनसे 1,09,692 रूपये वसूल किया जाएगा.

गुवाहटी एयरपोर्ट से जाने वाले हाजियों से पिछले साल 65,988 रूपये की तुलना में 1,15,646 रूपये, रांची एयरपोर्ट से 65,708 की तुलना में  1,07,275 रूपये, गया एयरपोर्ट से 68,887 की तुलना में 1,13,680 रूपये वसूल किया जा रहा है.  



वहीं अगर लखनऊ एयरपोर्ट से जाने वालों की बात करें तो पिछले साल यहां से जाने वाले हाजियों को 66,829 रूपये हवाई किराया देना पड़ा था, लेकिन इस बार इन्हें 80,966 रूपये देना होगा. दिल्ली वालों से पिछले साल 67,419 रूपये वसूल किया गया था, लेकिन इस बार इन्हें 73,697 रूपये देने हैं.

सिर्फ़ गुजरात व मुंबई से जाने वाले हाजियों थोड़ा रहम बरता गया है. इस बार इन्हें उतना ही हवाई किराया देना है, जितना पिछले साल इनसे वसूल किया गया था. और हां, ओवैसी के शहर के लोग एक रूपये के फ़ायदे में ज़रूर हैं. यहां हवाई किराया में एक रूपये की कटौति की गई है. 

जबकि, यही टिकट देश के प्राइवेट टूर ऑपरेटर्स अधिकतम 35-40 हज़ार रुपये में करा देते हैं. और तो और, अगर आप ठीक हज के समय किसी भी ऑनलाइन टिकट बुक करने वाली वेबसाइट पर जाएं, तो इसी हज के दौरान आने-जाने का टिकट अधिकतम 30-35 हज़ार में मिल जाता है.

ऐसे में आप अंदाज़ा लगा सकते हैं कि किराये में क्या ज़बरदस्त भारी कटौती हुई है. हद तो यह है कि प्राइवेट टूर ऑपरेटर्स को सरकार ने यह छूट दे रखी है कि वे किसी भी एयरलाइंस से हाजियों को हज के लिए ले जा सकते हैं, वहीं सरकारी स्तर पर हाजी सिर्फ़ एयर इंडिया से ही जाने को मजबूर हैं.
 
Sr.No. State/U.T./Districts Covered 2017 Airfare (including Airport Charges & Taxes) 2018 Airfare (including Airport Charges & Taxes)
(1) (2) (3) (4)
1. Jammu & Kashmir. SRINAGAR
Rs. 68,510/-
SRINAGAR
Rs. 1,09,692/-
2. Assam, Meghalaya, Manipur, Arunachal Pradesh & Sikkim. GUWAHATI
Rs. 65,988/-
GUWAHATI
Rs. 1,15,646/-
3. Jharkhand. RANCHI
Rs. 65,708/-
RANCHI
Rs. 1,07,275/-
4. Bihar. GAYA
Rs. 68,877/-
GAYA
Rs. 1,13,680/-
5. Madhya Pradesh (Alirajpur, Badwani, Burhanpur, Dewas, Dhar, Indore, Jhabua, Khandwa, Khargone, Mandsaur, Neemuch, Ratlam & Ujjain Distris) INDORE
Rs. 68,764/-
INDORE
Rs. 97,233/-
6. Madhya Pradesh (Anuppura, Ashok Nagar, Betul, Bhind, Bhopal, Datiya,Chhatarpur, Damoh, Dindori, Guna, Gwalior, Harda, Hoshangabad, Jabalpur, Katni, Morena, Narshingpur, Panna, Raisen, Rajgarh, Rewa, Sagar, Satna, Sehore, Shahdol, Shahjapur, Sheopur Kalan, Shivpuri, Sidhi, Singrauli, Tikamgarh, Umaria & Vidisha Districts). BHOPAL
Rs. 68,785/-
BHOPAL
Rs. 95,328/-
7. Mangaluru (DK), Chikkamagaluru, Hassan, Kodagu & Udupi Districts of Karnataka State. MANGALURU
Rs. 69,645/-
MANGALURU
Rs. 1,05,356/-
8. Goa and Uttar Kannada & Belagavi Districts of Karnatka State. GOA
Rs. 68,862/-
GOA
Rs. 81,536/-
9. Maharashtra (Aurangabad, Beed, Hingoli, Jalna, Latur, Nanded, Osmanabad, Parbhani and Ahmed Nagar Distrits). AURANGABAD
Rs. 68,777/-
AURANGABAD
Rs. 87,460/-
10. Uttar Pradesh [Eastern Districts viz Allahabad, Azamgarh, Ballia, Deoria, Chandauli, Ghazipur, Gorakhpur, Jaunpur, kushambi, kushi Nagar, Mau, Maharaj Ganj, Mirzapur, Sant Ravidas Nagar, Sonbhadra & Varanasi]. VARANASI
Rs. 70,082/-
VARANASI
Rs. 92,387/-
11. Rajasthan. JAIPUR
Rs. 69,772/-
JAIPUR
Rs. 83,216/-
12. Chhattishgar, Maharashtra (Akola, Amravati, Bhandara, Buldhana, Gondi Chandra pur, Gadchiroli, Nagpur, Wardha, Washim & Yavatmal Distrits of Vidharbha Region) and Madhya Pradesh (Balaghat, Chindwada, Mandla & Seoni Districts). NAGPUR
Rs. 68,777/-
NAGPUR
Rs. 70,972/-
13. Delhi, Punjab, Haryana, Himachal Pradesh, Chandigar, Uttarakhand,& Uttar Pradesh, [Western Districts viz Agra, Aligarh, Baghpat, Bhimnagar, (Sambhal), Bijnore, Buland Shahar, Firozabad, Gautam Budh Nagar, Ghaziabad, Jyotiba Phule Nagar, Mahamaya Nagar, (Hathras), Mathura, Meerut, Moradabad, Muzaffarnagar, Panchsheel Nagar (Hapur), Prabudh Nagar (Kairana, Shamli), Rampur & Saharanpur]. NEW DELHI
Rs. 67,419/-
NEW DELHI
Rs. 73,697/-
14. Maharashtra (Dhule, Jalgaon, Kolhapur, Mumbai, Nandurbar, nasik, pune, Raigad, Ratnagiri, Sangli, Satara, Sindhudurg, Solapur & Thane Districts), Daman & Diu and Dadra & Nagar Haveli. MUMBAI
Rs. 58,254/-
MUMBAI
Rs. 58,254/-
15. West Bengal, Odisha and Tripura. KOLKATA
Rs. 69,968/-
KOLKATA
Rs. 83,027/-
16. Karnataka, (Bagalkot, Bengaluru Rural, Bengaluru Urban, Ballari, Vijayapura, Haveri chamraj Nagar, Chikbalapur, Chitradurga, Davangerem, Dharwad, Kolar, Gadag, Kopal, Mandya, Mysuru, Ramanagaram, Shivamogga & Tumakuru Districts) and Anantpur & Chittoor Districts of Andhraprades State. BENGALURU
Rs. 70,085/-
BENGALURU
Rs. 71,586/-
17. Andhr Pradesh & Telangana (Adilabad, Cuddapah, East Godavari, Guntur, Hyderabad, Kadapa, Karim Nagar, Khammam, Krishna, Kurnool, Mahabub Nagar, Medak, Nal Gonda, Nellore, Nizamabad, Patan Chiru, Prakasam, Rangareddi, Sangareddy, Secunderabad, Srikakulam, Vishakhapatnam, Vizianagaram, Warangal & West Godavari Districts) and Bidar, Kalaburagi, raichur & Yadgir Districts of Karnataka State. HYDERABAD
Rs. 65,656/-
HYDERABAD
Rs. 65,655/-
18. Kerala, Lakshdweep & Mahe (Puducherry) COCHIN
Rs. 65,625/-
COCHIN
Rs. 76,372/-
19. Tamil Nadu, Puducherry, Andaman & Nicobar. CHENNAI
Rs. 66,304/-
CHENNAI
Rs. 83,832/-
20. Gujarat. AHMEDABAD
Rs. 63,135/-
AHMEDABAD
Rs. 63,135/-
21. Uttar Pradesh [Central Districts viz Ambedkar Nagar, Auraiya, Badaun, banda, Bahraich, Balrampur, Barabanki, Bareilly, Basti, C.S.M. Nagar, (Amethi), Etah, Chitrakoot, Etawah, Faizabad, Farrukhabad, Fatehpur, Gonda, Hameerpur, Hardoi, Jalaun, Jhansi, Kannauj, Kanpur, Kasganj, Lakhimpur Kheri, Lalitpur, Lucknow, Mohaba, Mainpuri, Pilibhit, Pratap Garh, Rae Bareilly, Ramabai Nagar (Kanpur Dehat), Sant Kabir Nagar, Shahjahanpur, Shravasti, Siddharth Nagar, Sitapur, Sultanpur & Unnao]. LUCKNOW
Rs. 66,829/-
LUCKNOW
Rs. 80,966/-
 
अगर सरकार हज यात्रियों को सिर्फ़ इंडियन एयरलाइंस के ‘थकेले जहाज़’ से जाने की शर्त को ख़त्म कर दे और उसके बदले हज कमिटी ऑफ इंडिया को ग्लोबल टेंडर मंगवाने की इजाज़त दे दी जाए, तो हर साल हज यात्री से अभी जो रक़म एयर-फेयर के नाम पर लिया जा रहा है, उसके आधे में ही आना-जाना हो सकता है.

अगर सरकार मुसलमानों के लिए वाक़ई बेहतर करने की इच्छुक है, तो ग्लोबल टेंडर के लिए राहत दी जा सकती है. ग्लोबल टेंडर में न सिर्फ़ हज के लिए जाने के टिकट सस्ते हो जाएंगे, बल्कि जो कंपनियां सामने आएंगी, उनको भी भारी-भरकम मुनाफ़ा होगा.



यक़ीनन बाज़ार की अर्थव्यवस्था के दौर में यह उपभोक्ताओं, कंपनियों और सरकार, तीनों के लिए राहत की ख़बर होगी. सरकार अगर चाहे, तो सीधे तौर पर भी हज यात्रियों को यह छूट दे सकती है कि वे किसी भी एयरलाइंस से खुद ही टिकट कराकर जा सकते हैं. ऐसे एक नहीं, बल्कि अनेक रास्ते हैं, मगर उसके लिए ज़रूरत ईमानदार नीयत की है, जो फिलहाल ढ़ूंढने से भी नहीं मिलती दिख रही है.

एयरपोर्ट अथाॅरिटी ऑफ इंडिया को क़रीब 70.31 करोड़ की कमाई हुई है. स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय भी मुसलमानों के इस हज का फ़ायदा हासिल करता रहा है. साल 2015 में हज यात्रियों हेतु सीजनल इन्फ्लूएंजा टीके (सीआईवी) की खरीद प्रक्रिया में भ्रष्टाचार की कहानी सामने आ चुकी है. ये मुद्दा राज्यसभा में भी उठ चुका है.

दरअसल, एयर इंडिया से हज यात्रियों को भेजने के पीछे सरकार की गाढ़ी कमाई एक कड़वा सच है. हज सब्सिडी के नाम पर मुसलमानों को सिर्फ़ छलावे की सब्सिडी दी गई. सरकार से कोटा लेकर प्राईवेट टूर ऑपरेटर, जो सफ़र तक़रीबन आधे दामों में करवा रहे हैं, वही एयर इंडिया दोगुने दामों में करवाकर सरकार के सिर पर वाहवाही का ताज रखते आई है. ये हज की ही देन है कि एयर इंडिया दिवालिया होने से बची हुई है.

हज सब्सिडी एयर इंडिया की लाइफ़लाईन जैसी थी. एयर इंडिया को सरकार सब्सिडी के तौर पर जो पैसा दे रही थी, उससे गले तक क़र्ज़ में डूबे हुए ‘महाराजा’ की सांसे चल रही थी. सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश के चलते मजबूरन सब्सिडी ख़त्म कर दी, इससे मुसलमानों के लिए कम पैसों में हज के सफ़र के रास्ते खुल गए. मगर अब मुसीबत फिर उस सरकारी सफ़ेद हाथी की है, जिसे सिर्फ़ और सिर्फ़ सब्सिडी के भरोसे चलाया जा रहा है.