Video: शर्मनाक - योगी के मंत्री को ही नहीं याद ‘वंदे मातरम’

Written by Sabrangindia Staff | Published on: August 12, 2017
Yogi mantri

‘वंदे मातरम’ के गायन को लेकर राजनीति करने वाली बीजेपी के उत्तर प्रदेश के मंत्री को ही ये राष्ट्रीय गीत याद नहीं है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक योगी आदित्य नाथ के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री बलदेव सिंह आलोख लाइव टीवी डिबेट के दौरान जब उनसे कहा गया कि वंदे मातरम गाकर सुनाइए वे तो नहीं गा पाए।



मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इस बहस के दौरान टीवी एंकर ने लगभग छह मिनट तक वंदे मातरम गायन के लिए बोलता रहा लेकिन मंत्री नहीं गा पाए। एंकर ने कहा कि मैंने डिबेट बीच में ही रोक दी है और आप मुझे वंदे मातरम गाकर सुनाइए। बलदेव की तरफ से इसके गायन को लेकर लगातार कोई ना कोई बहाना बनाया जाता रहा।

एंकर ने बार-बार सुनाने का आग्रह किया लेकिन बलदेव का जवाब था – टेलीफोन पर सुना दूंगा, मैं आपको सुना दूंगा, इनका (मौलाना) हमें कोई सर्टिफिकेट नहीं लेना, सीधा-सीधा सुना दूंगा, हम आपको सुना देंगे चिंता मत कीजिए। आखिरी समय तक योगी के मंत्री वंदे मातरम सुनाने को तैयार नहीं हुए। एंकर ने आखिरकार बलदेव को कह ही दिया कि आपको वंदे मातरम आता ही नहीं है। इसपर भी बलदेव ने कोई जवाब नहीं दिया।

टीवी पर हो रही बहस में साक्षी महाराज के साथ-साथ एक मुस्लिम धर्मगुरू भी मौजूद थे। साक्षी महाराज ने वंदे मातरम न गाने पर बलदेव को निशाने पर लिया और कहा कि राष्ट्र गान और राष्ट्रगीत देश की आत्मा है और जिनको नहीं आता उन्हें सबसे पहले इसे सीखने का प्रयास करना चाहिए। मुस्लिम धर्मगुरू ने बलदेव पर निशाना साधते हुए कहा कि उनको मुल्क से प्यार नहीं है इसलिए वह नहीं गा रहे हैं।
 
ज्ञात हो कि टीवी पर ये बहस मुंबई निगम के स्कूलों में राष्ट्रगीत को जरूरी बनाने के फैसले पर हो रही थी। बीजेपी ने कहा कि महाराष्ट्र के सभी स्कूलों में वंदे मातरम का गायन जरूरी होना चाहिए।

बाकी ख़बरें