योगी सरकार की पुलिस के डर से 120 दलित परिवारों ने छोड़ दिया गांव

Written by Sabrangindia Staff | Published on: September 14, 2017
यूपी में योगी आदित्यनाथ की सरकार बनने के बाद दलितों पर अत्याचार तेजी से बढ़ गया है। ताजा घटना एटा जिले की है। जहां जलेसर कोतवाली में 15 अगस्त की रात हुए बवाल के बाद पुलिस द्वारा दलित परिवारों के घरों पर तांडव मचाया जा रहा है। बुधवार को पीड़ित दलित परिवार की महिलाओं ने एसएसपी से न्याय की गुहार की।



मुहल्ला ठगेलान निवासी गंगा देवी पत्नी जयसिंह ने एसएसपी को दिए प्रार्थना पत्र में कहा कि उसके पुत्र संजीव की परचून की दुकान है। कई पुलिस कर्मियों ने दुकान से सामान उधार लिया था। आरोप है कि पैसे मांगने पर पुलिस कर्मी 15 को सुबह उसके पुत्र संजीव और मुहल्ले के कई लोगों को उठा लाए थे। अन्य लोगों को तो पांच-पांच हजार रुपये लेकर छोड़ दिया, लेकिन उसके पुत्र को नहीं छोड़ा।

कोतवाली पर हुए बवाल में उसके पुत्रों और पति के अलावा आसपास के तमाम लोगों को पुलिस ने झूठा फंसाया है। पुलिस के भय से 120 दलित परिवार मुहल्ला ठगेलाल और गोलाकुआं से पलायन कर चुके हैं। पीड़ित परिवार की महिलाओं के साथ मौजूद बसपाइयों ने एसएसपी अखिलेश कुमार चौरसिया से पूरे मामले की निष्पक्ष जांच कराने और पुलिस के भय से पलायन करने वाले दलित परिवारों की मदद करने की मांग की।


साभार-नेशनल दस्तक
 

बाकी ख़बरें